बागवानी-कृषि

सेब सीजन के समय कुदरत का कहर अगस्त में ओलावृष्टि से हर कोई हैरान

निरमंड की गमोग पंचायत में ओलावृष्टि ने तोड़ी बागवानों की कमर

सेब सीजन के समय कुदरत का कहर अगस्त में ओलावृष्टि से हर कोई हैरान
निरमंड की गमोग पंचायत में ओलावृष्टि ने तोड़ी बागवानों की कमर
कुल्लू। कहते हैं कुदरत के आगे किसी का कुछ नहीं
चलता। ये बागवानों के लिए कहर कहें या बेमौसती ओलावृष्टि। बीती शाम निरमंड की गमोग पंचायत के कई गोव में भारी ओलावृष्टि हुई है। जिससे सेब की फसल यहां पूरी तरह से तबाह हो गई है। गमोग पंचायत के गांव छोटा शरशाह,बड़ा  शरशाह,लुहारला,नाला मागगी,धारा मागगी,मरगी और तांदी आदि गांव में अगस्त के महीने हुई ओलावृष्टि बागवानों पर कहर बनकर टूटी है। क्योंकि बेमौसमी ओलावृष्टि होने से क्षेत्र के बागवानों को भारी नुकसान पहुंचा है। अभी इन गांव में सेब का सीजन चरम पर है। ओलावृष्टि ने सेब पर गहरे
घाव दिए और बागवानों की साल भर की मेहनत को कुछ ही मिनट में तबाह कर दिया। जिला परिषद सदस्य पप्पी बिष्ट का कहना है कि उक्त क्षेत्रों में अगस्त के महीने में हुई ओलावृष्टि से बागवानों को भारी क्षति पहुंची है।
उन्होंने कहा कि ऐसा बहुत सालों बाद हुआ है कि अगस्त के महीने ओलावृष्टि हुई । किसी को इतना आभास भी नहीं था कि कुदरत उनके साथ ऐसा करे। अचानक हुई ओलावृष्टि से हर कोई हैरान है। उन्होंने कहा कि उन्होंने उक्त क्षेत्रों का दौरा किया है जिसमें उन्होंने पाया है कि बागवानों को भारी नुकसान हुआ है जिसकी भरपाई सरकार की मदद के बिना असंभव है। उन्होंने सरकार तथा प्रशासन से मांग उठाई है कि प्रभावित क्षेत्रों का मुआयना कर बागवानों को हर संभव सहायता दी जाए।

Moniker Resort Manali, Himachal
Tags
Show More

नितिन शर्मा

नितिन शर्मा मनाली के वरिष्ठ पत्रकार हैं। नितिन पिछले करीब 15 साल से पत्रकारिता में हैं। इस दौरान नितिन ने विभिन्न मुद्दों पर प्रखरता से आवाज उठाई है। अब नितिन एक नई सोच नई पहल के साथ आपके बीच मनाली टुडे वेबसाइट लेकर आए हैं। उम्मीद है आपको उनका यह प्रयास पसंद आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Open chat
1
नमस्ते ! हमारा व्हाट्सएप नंबर यह है यदि आपके पास कोई ख़बर हो तो हमारे व्हाट्सएप पर जरूर शेयर करें- 094182 05656